शिक्षा के लिए आवश्यक नैतिक तर्क

 

 

अपने जीवन के दौरान, छात्रों को नैतिक मुद्दों और सवालों की एक व्यापक श्रेणी का सामना करना होगा ताकि उनका निर्णय उनके लिए सही सिद्ध हो । इस प्रकार यह आवश्यक है कि वे मूलभूत नैतिक सिद्धांतों और कुशल नैतिक तर्कों के लिए क्या आवश्यक है? समझें सीखें।
नैतिकता के लिए अंतिम आधार स्पष्ट है: मानव के बहुत से व्यवहार दूसरे लोगों के कल्याण के लिए परिणाम हैं। हम अपने जीवन की गुणवत्ता को बढ़ाने या घटाने के तरीकों के साथ दूसरों के साथ काम करने में सक्षम हैं। हम मदद करने या नुकसान पहुंचाने में सक्षम हैं | यह हम सैद्धांतिक रूप से समझने में सक्षम हैं कि हम कुछ एक सही काम कर रहे हैं और या दूसरा गलत काम, ऐसा इसलिए है क्योंकि हमारे पास दूसरों की जगह पर कल्पनाशील रूप से अपने आप को स्थापित करने की क्षमता है और यह पहचानने की क्षमता है कि अगर कोई हमारी ओर से कार्य करता है तो हम कैसे प्रभावित होंगे क्योंकि हम दूसरों की ओर काम कर रहे हैं।
नैतिक तर्क की उचित भूमिका दो प्रकार के कृत्यों को उजागर करना है: वह क्र्त्य जो कि दूसरों की भलाई को बढ़ाते हैं-जो हमें प्रशंसा देते हैं-(इसे नैतिक काम कह्ते हैं) और जो दूसरों को नुकसान पहुंचाते हैं -और इस तरह हमारी आलोचना की ओर इशारा करते हैं-(इसे अनैतिक काम कह्ते हैं)
अच्छे नैतिक निर्णय करने के लिए निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर स्वयं को दें
( हर एक प्रश्न का उत्तर एक या दो वाक्यों में हो)
प्रश्न 1
मेरे जीवन का आम उद्देश्य क्या है?
प्रश्न 2
क्या मुझे पता है ? मुझे क्या जानने की ज़रूरत है?
प्रश्न 3
मेरी नैतिक चिंताए क्या हैं?
प्रश्न 4
मेरे हितधारक कौन हैं ?- मेरे फैसले से प्रभावित लोग कौन हैं ? पर उनके मन की इच्छा क्या है? कौन सी इच्छा वैध हैं?
प्रश्न 5
मेरे निर्णय से मैं निम्नलिखित में से किसको संतुष्ट कर पाउंगा:
Ø मेरे परिवार वालों को
Ø मेरे साथियों को
Ø समाज को
Ø खुद को
प्रश्न 6
मेरे कार्यों के संभावित परिणाम क्या हैं? लघु अवधिकालिक ? या दीर्घकालिक?
प्रश्न 7
निर्णय लेने की प्रक्रिया में, मैं अलग-अलग दृष्टिकोणों और विविध विचारों वाले अन्य लोगों को कैसे शामिल कर सकता हूं?
प्रश्न 8
क्या होगा अगर भूमिकाएं उलट जाएं? अगर मैं हितधारकों में से एक होता , तो मुझे कैसा लगेगा?
प्रश्न 9
मेरे निर्णय की जिम्मेदारी को अधिकतम रूप से संतुश्ट करने और नुकसान को कम करने के लिए मेरे पास क्या विकल्प क्या हैं?
प्रश्न 10
जिस संस्था से अपना उद्देश्य पूरा करने के लिये प्रयास कर रहा हूं उसकी नीतियां और व्यावसायिक दिशा-निर्देशों से कितना संतुश्ट हूं?
स्वयं के उत्तरों को स्वयं के द्वारा समझने का प्रयास करें ,यदि अधिकतर उत्तरों से आप संतुष्ट हैं तो प्रयास भी सार्थक होगा ,
इति

 


प्रदीप मेहरोत्रा

 

 

 

HTML Comment Box is loading comments...