tarasingh
Administrator Dr. Srimati Tara Singh









प्यार के किस्से पुराने नहीं हुए !

 

 

प्यार के किस्से पुराने नहीं हुए !
हमें भी प्यार करके जमाने नहीं हुए !!

 

हो जाता है ख़ुद, ख़बर ही नहीं होने देता !
दो दिलों के अफसानों के बहाने नहीं हुए !!

 

इसमें जितना करो त्याग कम ही है !
एक दूसरे के जख़्म दिखाने नहीं हुए !!

 

प्यार में जीने या मरने का जुनून एकही सा है !
ऐसे ही ख़ाक सदियों से परवाने नहीं हुए !!

 

"साँझ" अकलमंदों की कमी हो गई हो शायद !
तारीख़ गवाही देगी कभी कम दीवाने नहीं हुए !!

 

 

सुनील मिश्रा "साँझ"

 

 

HTML Comment Box is loading comments...