tarasingh
Administrator Dr. Srimati Tara Singh


www.swargvibha.in






 

 

सुनील मिश्रा "साँझ"

 

नग्न पैर हैं
पत्थर से बैर है
ख़ुदा ख़ैर है

***************

सारी कलियाँ
भौरे को देखकर
शरमाई सी

****************

इक नज़र
रात जैसी ख़ामोश
मुझे भा गयी

 

 

 

HTML Comment Box is loading comments...