tarasingh
Administrator Dr. Srimati Tara Singh


www.swargvibha.in






सुगन्ध किताबों की

 

 

अच्छी-सी
किताब की
सुगन्ध
लुभा लेती है
मेरे मन को
और सुगन्ध तो
नई किताब से भी
आती है
मगर वो
अच्छी न हो तो
याद दिला जाती है
उस पर खर्च किये
वो अपने
थोड़े से पैसे
जो उस वक़्त मेरे लिए
अनमोल थे।

 

 

 

- अमन चाँदपुरी

 

 

HTML Comment Box is loading comments...