TOP BANNER

TOPBANNER










 

 

पंछी अकेला, प्रतीक्षा करे साथी--बीनू भटनागर

 

 

1.
पंछी अकेला
प्रतीक्षा करे साथी
आया न साथी।
2.
आकाश सूना
बादल आये जायें
धरा न भीगे।
3
मन उदास
तन की है थकान
नींद न आये।
4.
भीगी चुनरी
घनी रे बदरिया
ओ संवरिया।
5.
घर का चूल्हा
ठन्डा पड़ा हुआ है
अतिथि आये!

 

 

 

HTML Comment Box is loading comments...