tarasingh
Administrator Dr. Srimati Tara Singh


www.swargvibha.in






 

 

बीजेपी से घबराया अंडरव‌र्ल्ड डॉन ?

 

 

दुनिया में खौफ पैदा करने वाला अंडरवर्ल्ड का बेताज बादशाह डॉन दाउद इब्राहिम को भी अब डर लगने लगा है। लोगों के दिलों में डर पैदा करने वाले इस इंसान के दिल में डर का घर बस रहा है। ये डर किसी और ने नही भारतीय जनता पार्टी ने पैदा की है। जब से बीजेपी की सरकार बनी है। पाकिस्तान से दाउद को सौपने की बात हर बार कही गई है। भारत का मोस्ट वांटेड अपराधी दाउद इब्राहिम पाकिस्तान और अफगानिस्तान की सीमा पर रह रहा है। एक समारोह में भाषण देते हुए ये बात केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था। साथ ही ये भी कहा कि दाउद को पनाह पाकिस्तान ने ही दी है। बीजेपी की तरफ से ये बयान कि जिस तरह से अमेरिका ने आतंकी ओसामा बिन लादेन को खत्म करने को लेकर मुहिम चलाई थी, वैसे ही अंडरव‌र्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम के खिलाफ मुहिम चलाकार सरकार उसे भारत लाने के लिए प्रयासरत है। दाउद को भारत को सौपने को लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ़ से भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आग्रह किया किया था। हर तरफ से पाक पर दाउद को लेकर दबाव बनाया जा रहा है। 1993 में मुंबई में हुए धमाके के मुख्य आरोपी होने से अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम भारत के मोस्ट वांटेट आतंकवादियों की सूची में पहले नंबर पर है। भारत से दूर रहकर दाउद ने अपना साम्राज्य फैला रखा है। यूपीए के कार्यकाल में भी दाउद को लेकर पाक से बातचीत की गई थी। लेकिन पाक अपनी नापाक हरकतों से बाज नही आता। अब एनडीए की सरकार में एक बार मुहिम तेज हो गई तो दाउद को भी डर लगने लगा। अपने डर को छुपाने के लिए अब बीजेपी के नेताओं को निशाना बना रहा है। भाजपा के वरिष्ठ नेता शहनवाज हुसैन को नवम्बर में एक अज्ञात काल से जान से मारने की धमकी मिली थी। उस कॉल में भाजपा नेता से कहा गया कि, आज कल ज्यादा बोलते हो। प्रधानमंत्री मोदी भी नही बचा पाएगें। इस पूरे प्रकरण की जांच कर रही दिल्ली पुलिस ने बताया कि ये कॉल दुबई से आई थी। शहनवाज हुसैन को ये धमकी पीएम नरेंद्र मोदी के पक्ष में बोलने पर दी गई है। इस फोन कॉल में उनको गालियां भी दी गई और पार्टी छोड़ने को भी कहा है। इस पूरे मामले को अभी ज्यादा दिन नही बीते थे । कि दुबई से एक और भाजपा नेता के पास फोन आता है। इस बार ये फोन केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी को आया है। फिर से वही धमकी दी गई। इस धमकी के बाद भले ही उनकी सुरक्षा बढा दी गई है। सोचने वाली बात एक मंत्री को अंडरवर्ल्ड से धमकी दी जा रही है। वही पुरानी बाते कि मुसलमान होने के बाद मोदी के पक्ष में क्यों बोल रहे हो। बीजेपी पार्टी को छोड़ दो। दुनिया के नज़रों में डी कम्पनी से मशहूर दाउद खुद तो छिप के बैठा है । 2 महीनों के भीतर ये दूसरी बार हुआ है। कही डर की वजह से ये सब कुछ नही हो रहा है। दाउद को बीजेपी से बड़ा ख़तरा महसूस हो रहा है। कही ओसामा प्रकरण की कार्यवाही न भारत कर दे। इससे पहले की कुछ करे डी कम्पनी बीजेपी में अपना डर पैदा करना चाहती है क्या ? जो लगातार बीजेपी के नेताओं कों धमकी और पार्टी छोड़ने की बात कही जा रही है। हाल में हुए पेशावर में आर्मी स्कूल में बच्चों पर हुए आंतकी हमला काफी दुखदायी रहा। आतंक के खिलाफ सभी देश मिलकर लड़ भी रहे है। जिसमें वो पाकिस्तान काभी साथ चाह रहे है। इस आंतकी हमले से पाक आर्मी काफी गुस्से में है। पाक आर्मी अब हर तरह की कार्यवाही तालिबानी आतंकवादियों पर करना चाहती है। वैसे ही एक कार्यवाही दाउद पर भी कर सकती है। भारत सरकार ने साफ तौर पर अपनी मंशा जाहिर कर दी। दाउद और हाफिज सईद को भारत के हवाले पाक कर दे। भारत हर मुमकिन पाक की मद्द आतंकवादियों के विरूद्ध लड़ने में करेगा। अब सोचना पाक को है कि वह क्या चाहता है। इन्हें पाल कर अपना नुकसान करना चाहता है। या फिर अपनी नई छाप दुनिया को दिखाना चाहेगा। बात कुछ भी हो लेकिन धमकी भरे ये फोन कॉल्स देने का मतलब बीजेपी से डर शायद अंडरव‌र्ल्ड डॉन दूसरे मुल्क पर होते हुए घबरा गया ?

 

 


रवि श्रीवास्तव

 

 

 

HTML Comment Box is loading comments...