www.swargvibha.in






 

 

युवा लेखिका आकांक्षा यादव को आगमन साहित्य सम्मान

 

 

akansha

 

प्रसिद्ध साहित्यिक एवं सांस्कृतिक संस्था ’आगमन’ ने युवा लेखिका, ब्लॉगर व साहित्यकार आकांक्षा यादव को इस वर्ष के 'आगमन साहित्य सम्मान -2015' के लिए चयनित किया है। उक्त सम्मान सुश्री यादव को दिल्ली में आयोजित आगमन वार्षिक सम्मान समारोह में प्रदान किया जायेगा। आकांक्षा यादव राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव की पत्नी हैं, जो की स्वयं चर्चित ब्लॉगर और साहित्यकार हैं। उक्त जानकारी संस्था के संस्थापक श्री पवन जैन ने दी।

 

देश-विदेश की तमाम पत्र-पत्रिकाओं और इंटरनेट पर वेब पत्रिकाओं और ब्लॉग पर निरंतर प्रकाशित होने वाली आकांक्षा यादव की दो पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। नारी विमर्श, बाल विमर्श एवं सामाजिक सरोकारों सम्बन्धी विमर्श में विशेष रुचि रखने वाली आकांक्षा यादव की रचनाओं में नारी-सशक्तीकरण बखूबी झलकता है। एक रचनाधर्मी के रूप में रचनाओं को जीवंतता के साथ सामाजिक संस्कार देने का प्रयास करने वाली आकांक्षा यादव अपनी रचनाओं में बिना लाग-लपेट के सुलभ भाव-भंगिमा सहित जीवन के कठोर सत्य उकेरने के लिए जानी जाती हैं।

 

गौरतलब है कि आकांक्षा यादव को राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इससे पूर्व भी तमाम प्रतिष्ठित सम्मान प्राप्त हो चुके हैं। इनमें साहित्य मंडल, श्रीनाथद्वारा, राजस्थान द्वारा ”हिंदी भाषा भूषण”, विक्रमशिला हिन्दी विद्यापीठ, भागलपुर, बिहार द्वारा डाॅक्टरेट (विद्यावाचस्पति) की मानद उपाधि, भारतीय दलित साहित्य अकादमी, नई दिल्ली द्वारा ‘डाॅ. अम्बेडकर फेलोशिप राष्ट्रीय सम्मान‘ व ‘‘वीरांगना सावित्रीबाई फुले फेलोशिप सम्मान‘, “दशक के श्रेष्ठ ब्लॉगर दम्पति“ का सम्मान, “परिकल्पना ब्लॉग विभूषण सम्मान“, परिकल्पना सार्क शिखर सम्मान, राष्ट्रीय राजभाषा पीठ इलाहाबाद द्वारा ’भारती ज्योति’, निराला स्मृति संस्थान, रायबरेली द्वारा मनोहरादेवी स्मृति सम्मान सहित विभिन्न प्रतिष्ठित सामाजिक-साहित्यिक संस्थाओं द्वारा विशिष्ट कृतित्व, रचनाधर्मिता और सतत् साहित्य सृजनशीलता हेतु दर्जनाधिक सम्मान और मानद उपाधियाँ प्राप्त हैं ।

 

 

 

 

**********************************************************************

 

 

 

HTML Comment Box is loading comments...