www.swargvibha.in






 

 

डा तारा सिंग मुम्बई को इस वर्ष का साज जबलपुरी लाइफटाइम वर्तिका

 

 

alankaran

 

२२ दिसम्बर को वर्तिका के समारोह में शामिल होंगे देश भर से साहित्यकार वर्तिका , जबलपुर की सक्रिय साहित्यिक सामाजिक सांस्कृतिक संस्था है . २२ दिसम्बर १३ को संस्था २९ वें स्थापना दिवस समारोह का आयोजन रानीदुर्गावती संग्रहालय के सभागार भंवरताल जबलपुर में कर रही है . इस अवसर पर साहित्य के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान हेतु राष्ट्रीय तथा स्थानीय स्तर पर पुरस्कार दिये जा रहे हैं


स्वर्ग विभा वेबसाइट की संस्थापिका डा तारा सिंग मुम्बई को इस वर्ष का साज जबलपुरी लाइफटाइम वर्तिका अवार्ड प्रदान किया जा रहा है . साहित्य अकादमी के निदेशक डा त्रिभुवन नाथ शुक्ल भोपाल को रामेश्वर शुक्ल अंचल अलंकरण , श्री संजीव सलिल जबलपुर को कामता प्रसाद गुरू अलंकरण के अतिरिक्त दिल्ली के श्री जाली अंकल , हैदराबाद के ब्लागर व कवि श्री विजय सपट्टी , नोयडा की सुश्री सखी सिंह , भोपाल के श्री अनवर इस्लाम , जबलपुर के श्री कुंवर प्रेमिल एवं श्रीमती लक्ष्मी शर्मा को सम्मानित किया जावेगा . इसके अतिरिक्त वर्तिका की श्रीमती सुनीता मिश्रा को श्रीमती दयावती श्रीवास्तव शिक्षा वर्तिका अलंकरण तथा दीपक तिवारी को वर्तिका सम्मान प्रदान किया जाना है .


वर्तिका ने अभिनव पहल करते हुये सक्रिय साहित्यिक संस्थाओ को भी सम्मानित करने का निर्णय लिया है और इस वर्ष यह सम्मान गुंजन कला सदन के संस्थापक श्री ओंकार श्रीवास्तव को दिया जावेगा .

 

दोपहर में "वर्तमान परिदृश्य में साहित्यकारो की भूमिका" विषय पर होगी संगोष्ठीदोपहर १ बजे से वर्तमान परिदृश्य में साहित्यकारो की भूमिका विषय पर संगोष्ठी होगी जिसकी अध्यक्षता प्रो सी बी श्रीवास्तव विदग्ध करेंगे तथा मुख्य वक्ता के रूप में श्री राजेन्द्र चंद्रकांत राय व्यक्तव्य देंगे.


अलंकरण समारोह रविवार २२ दिसम्बर २०१३ को संध्या ५.३० बजे से आयोजित किया जा रहा है . समारोह के मुख्य अतिथि श्री मनु श्रीवास्तव आई ए एस अध्यक्ष एवं प्रबंध संचालक पावर मैनेजमेंट होंगे . कार्यक्रम की अध्यक्षता हेतु चंद्रशेखर सृजन पीठ के डा कृष्णकांत चतुर्वेदी तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में श्रीमती प्रज्ञा ॠचा श्रीवास्तव आई पी एस , आई जी रहेंगी . अलंकरण के बाद कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया है . आयोजन का इंटरनेट पर लाइव पाडकास्ट गिरिश बिल्लौरे द्वारा किया जावेगा .

 

समारोह में कटनी , गाडरवाड़ा , नरसिगपुर , जबलपुर , करेली, मण्डला , नैनपुर , छिंदवाड़ा , लखनादौन , आदि स्थानो से साहित्यकार आ रहे हैं . विजय नेमा , एम एल बहोरिया , विजय तिवारी किसलय , विवेक रंजन श्रीवास्तव , सलमा जमाल , राजेंद्र जैन रतन , दीपक तिवारी , अनूदित साज , सोहन सलिल , वर्षा शर्मा रैनी , ममता जबलपुरी व समस्त वर्तिका परिवार ने दोनो चरणो के कार्यक्रमो में सभी वरिष्ठ तथा नवोदित रचनाकारो से उपस्थिति की अपील की है .

 


vivek ranjan shrivastava

 

 

 

HTML Comment Box is loading comments...