www.swargvibha.in






 

 

“सबरस सभा”, अणुशक्तिनगर एवं “शिवानी साहित्य मंच” चेंबूर द्वारा
संयुक्त रूप से 31/10/2010 रविवार को 73 बी, कलेक्टर्स कालोनी चेंबूर में एक
छंदबद्ध काव्य स्पर्धा का आयोजन किया गया. जिसमें शहर की जानी मानी हस्तियों
ने हिस्सा लेकर प्रतियोगिता को ऊँचाईयों तक पहुँचाया. प्रतिभागियों ने अपने अपने
गीत/गज़ल, प्रस्तुत कर खूब वाहवाही लूटी. कार्यक्रम का संचालन संस्था के सचिव
एवं कवि कुलवंत सिंह ने किया. पुरस्कार वितरण अध्यक्ष श्री गिरीश जोशी ने किया
एवं संस्था की तरफ से एक गज़ल वर्कशाप के आयोजन की भी घोषणा की. प्रथम
पुरुस्कार की हकदार बनीं – सुप्रसिद्ध गज़लकार मरयम गज़ाला; द्वितीय पुरुस्कार पर
अधिकार किया - गीतकार हरिश्चंद्र जी ने. तृतीय पुरुस्कार को गीतकार एवं चौपाईयों
के सम्राट डा. कपिल कुमार जी ने दरकिनार किया. प्रोत्साहन पुरुस्कार श्रीमती
शकुंतला देवी एवं स्पर्श देसाई ने बटोरा. अन्य गणमान्य रचनाकार थे – त्रिलोचन
सिंह अरोड़ा, डा. लक्ष्मण शर्मा, पी. डी. बाजपेयी, नंदलाल थापर, शील निगम, डा.
सुषमा सेनगुप्ता, इकबाल मोम राजस्थानी, मजू गुप्ता, उमेश गुल्हाने, कुलदीप सिंह,
डा. राठौर, पंकज प्रेम, जे. डी. शर्मा इत्यादि. निर्णायक मंदल के सदस्य थे – खन्ना
मुज़फ्फरपुरी, कुमार शैलेन्द्र एवं लोचन सक्सेना. सभी अतिथियों का स्वागत एवं माँ
सरस्वती का आवाहन गीत गाया – श्रीमती प्रमिला शर्मा ने. अतीव हर्ष का विषय
रहा कि मुंबई से बाहर के तीन प्रसिद्ध शायर - नियाज फतेहपुरी, वफ़ा कानपुरी और
अंजुम लखनवी जो कि मुंबई पधारे हुए थे; उन्होंने भी कार्यक्रम में शिरकत की और
अपनी गज़लों से दर्शकों को मुग्ध किया. कार्यक्रम में शायर ज़ाफ़र रज़ा को एक मिनट
का मौनव्रत रख कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई.

 

HTML Comment Box is loading comments...