www.swargvibha.in






 

 

लडकियों को शिक्षित करें तभी महिलाओं पे अत्याचार कम होगा - डा0 राजेश्वर सिंह उपनिदेशक पलामू

 

8march

 

महिला सशक्तिकरण के लिए इमानदार प्रयास की जरूरत है - मनोज कुमार ठाकुर शहर थाना प्रभारी, डालटनगंज
डायन कोई चीज नहीं है मानसिक दूर्गुण है - आर0एन0 तिवारी महिला थाना प्रभारी
पुरूष विलासिता के कारण रोग से ग्रसित होकर मरते है जबकि महिलाए कुपोषण या अभाव के कारण - मनरेगा लोकपाल शिवशंकर प्रसाद
महिलाओं को सशक्त किये बिना राष्ट्र का सशक्त होना असंभव - स्वर्णलता रंजन
मिलजुलकर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का सामुहिक प्रयास करें - फादर जार्ज

 


8 मार्च 2014 अन्तर्राष्ट्रीस महिला दिवस के अवसर पर ग्रामीण समाज कल्याण विकास मंच द्वारा राष्ट्रीय महिला सशक्तिकरण मिशन एवं जिला स्वास्थ्य समिति पलामू के सौजन्य से रैली का उदघाटन एवं सभा का आयोजन किया गया। रैली सिविल सर्जन कार्यालय से निकल कर शहर के मुख्य रास्ते से होते हुए पूनः सिविल सर्जन कार्यालय के सभा कक्ष में सभा के रूप में तब्दील हो गई। रैली का उदघाटन उप निर्देशक स्वास्थ्य डा0 राजेश्वर सिंह , डा0 राजेश्वर रंजन एवं मो0 हशमत रब्बानी ने हरी झंडी दिखा कर किया। स्वर्णलता रंजन की अध्यक्षता में लगभग 100 सहिया एवं सहिया साथी तथा समूह की महिलाओं के साथ रैली निकाला गया, रैली में नारी दिवस पे नारा था।


नारी दिवस पे ये नारा है - सारा विश्व नारी ने संवारा है।
नारी का जो करें अपमान - उसको समझो पशु समान।
महिला सशक्तिरण जिंदाबाद, महिला का सम्मान करों, घरेलू हिंसा बंद करों, बलत्कारीयों को सजा दो, कन्या भ्रूण हत्या बंद करो, डायन का जो करे प्रचार वह है सजा का हकदार।
कार्यशाला का आयोजन ग्रामीण समाज कल्याण विकास मंच द्वारा अन्र्तराष्ट्रीय महिला दिवस पर डायन प्रथा नियंत्रण कार्यक्रम के अन्तर्गत किया गया। कार्यक्रम का संचालन मंच के सचिव मो0 हशमत रब्बानी ने किया एवं अध्यक्षता उप निर्देशक स्वास्थ्य ने किया । इस अवसर पर डायन नियंत्रण हेतू हस्ताक्षर अभियान की शुरूआत की गयी, साथ ही कार्टून में डायन प्रथा प्रतिषेध अधिनियम 2001 एवं डायन अत्याचार के विभिन्न घटनाओं को एक कैलेन्डर में दिखाया गया जिसका विमोचन शहर थाना प्रभारी मनोज कुमार ठाकुर, महिला थाना प्रभारी आर0एन0 तिवारी, आर0डी0डी0एच0 ने सम्मिलित रूप से किया।


कार्यक्रम का परिचय देते हुए कार्यक्रम प्रभारी स्वर्णलता रंजन ने कहा महिलाओं को सशक्त किये बिना राष्ट्र का सशक्त होना असंभव है, महिलाए देश की आधी आबादी है जिसका सशक्तिकरण आवशयक है साथ ही उन्होने डायन प्रतिषेध अधिनियम की जानकारी दी एवं कहा कि महिलाओं को अपनी शक्ति पहचानना आवशयक है। आर0डी0डी0एच0 ने कहा कि लडकियों को शिक्षित करें तभी महिलाओं पे अत्याचार कम होगा।


मनरेगा लोकपाल शिवशंकर प्रसाद ने कहा कि विज्ञापन के माध्यम से महिलाओं का अपमान किया जाता है। अक्सर पुरूष विलासिता के कारण रोग से ग्रसित होकर मरते है जबकि महिलाए कुपोषण या अभाव के कारण मरती है। कैथोलिक चर्च के फादर जार्ज ने कहा कि महिला के प्रति कुरितियों को बंद करे, मिलजुलकर महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का सामुहिक प्रयास करें। महिला थाना प्रभारी आर0एन0 तिवारी ने कहा कि डायन कोई चीज नहीं है मानसिक दूर्गुण के कारण प्रताड़ित करने के कारण महिलाओं को डायन कहा जाता है।


शहर थाना प्रभारी श्री मनोज कुमार ठाकुर ने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए इमानदार प्रयास की जरूरत है, जो सृष्टिकर्ता है उसे उपेक्षित न करें मिलकर प्रयास करें कि सभी को न्याय मिले, महिलाए प्रताड़ना की शिकार न हो, कानून का प्रभावी ढ़ग से कार्यान्वयन हो। कार्यक्रम में बी0टी0टी0, सहिया, सहिया साथी, विरेन्द्र पासवान, मिडिया कर्मी आदि अनेक लोग उपस्थित थे।

 

 

मो0 हशमत रब्बानी

 

 

HTML Comment Box is loading comments...