www.swargvibha.in






 

 

लोक उत्सव ने मालवा की मिठास

 

malwa ki mithaas

 

संजा लोको त्सव -अध्यक्ष /निर्णायक /संस्था प्रतिकल्पा /कलाकारों एवम अथिति गण को हार्दिक बधाई । उज्जैन में प्रति वर्ष आयोजित संजा लोक उत्सव ने मालवा की मिठास गीतों के जरिए एवम मांडनो , नृत्य से सम्पूर्ण क्षेत्र को सुशोभित कर रही है वही निमाड़ क्षेत्र में साँझ होते ही संजा के मधुर लोक गीत घर घर गूंज रहे है । लोक संस्कृति ,परंपरा को बेटियों ने ही आज तक बचाए रखा है नहीं तो ये कभी के विलुप्त हो जाते । इसलिए कहा गया है कि "बेटी है तो कल है "

 

 


संजय वर्मा "दृष्टि "
मनावर (धार ) म प्र