www.swargvibha.in






 

 

डाक विभाग का उद्देश्य समावेशी विकास के तहत सभी को बचत योजनाओं के तहत लाना-डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव

 

 

राष्ट्रीय डाक सप्ताह के तहत डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव ने किया बचत बैंक दिवस का शुभारम्भ

postal day

डाक विभाग द्वारा 'राष्ट्रीय डाक सप्ताह' के तहत 10 अक्टूबर को बचत बैंक दिवस के रूप में मनाया गया । इस अवसर पर डाक विभाग द्वारा विभिन्न जगहों पर बचत बैंक मेलों का आयोजन किया गया। बचत बैंक दिवस का शुभारम्भ करते हुए राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाक विभाग का उद्देश्य समावेशी विकास के तहत शहरों के साथ-साथ सुदूर ग्रामीण अंचल स्थित लोगों को भी बचत योजनाओं के तहत लाना है। इसके तहत तमाम गांवों को बचत बैंक ग्राम के तहत आच्छादित किया जा रहा है। श्री यादव ने बताया कि राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र, जोधपुर के डाकघरों में विभिन्न तरह के 76 लाख से अधिक खाते चल रहे हैं।

 

डाक निदेशक श्री कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाकघरों को भी अब कोर बैंकिंग सोल्यूशन (सी.बी.एस.) से जोड़ा जा रहा है, जिससे ग्रामीण स्तर पर भी बैंकिंग क्षेत्रों में क्रान्तिकारी कदम का सूत्रपात होगा। राजस्थान पश्चिमी क्षेत्र में 564 विभागीय डाकघरों में से 303 डाकघरों को सी.बी.एस. से जोड़ा जा चुका है और शेष डाकघरों को भी शीघ्र ही जोड़ दिया जायेगा। अब देश भर के सी.बी.एस. डाकघरों से किसी अन्य सी.बी.एस. डाकघर का पैसा निकाला और जमा किया जा सकता है। तमाम प्रधान डाकघरों में एटीएम भी स्थापित किया गया है। श्री यादव ने कहा कि आने वाले दिनों में डाकघरों के खाताधारक नेट बैंकिंग और मोबाइल बैंकिंग जैसी सुविधाओं का लाभ भी उठा सकेगे ।


तमाम बचत योजनाओं के बारे में बताते हुए डाक निदेशक श्री यादव ने कहा कि डाकघरों में निवेश की तमाम योजनायें हैं, जिनमें बचत खाता, आवर्ती जमा, सावधि जमा, मासिक आय योजना, पी. पी. एफ., सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम एवं राष्ट्रीय बचत पत्र व किसान विकास पत्र में निवेश किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि डाकघरों की बचत योजनाओं में ब्याज दर अन्य संस्थानों की अपेक्षा बेहतर है और जमा धन भी पूर्णतया सुरक्षित है। उन्होंने सुकन्या समृद्धि योजना से 10 वर्ष तक की हर योग्य बालिका को जोड़ने पर भी जोर दिया। बेटियों की उच्च शिक्षा, कैरियर और उनके विवाह में सुविधा के लिए डाकघरों में आरम्भ सुकन्या समृद्धि योजना के तहत एक वित्तीय वर्ष में न्यूनतम 1,000 और अधिकतम डेढ़ लाख रूपये तक जमा किये जा सकते हैं । इस योजना में खाता खोलने से मात्र 14 वर्ष तक धन जमा कराना होगा। डाक निदेशक श्री यादव ने कहा कि इस पर सरकार ने ब्याज 9.1 से बढाकर 9.2 प्रतिशत कर दिया है और जमा धनराशि में आयकर छूट का भी प्राविधान है। इस अवसर पर डाक निदेशक श्री यादव ने तमाम लोगो को खातों की पासबुक सौंप करके उनके समृद्ध भविष्य की कामना की I

 


इस अवसर पर तमाम अधिकारी, कर्मचारी, बचत अभिकर्तागण व तमाम नागरिक उपस्थित रहे ।
*****************************************

 

 

HTML Comment Box is loading comments...