www.swargvibha.in






 

डा० श्रीमती तारा सिंह को ’राष्ट्रीय साहित्य भूषण अवार्ड 2010’

31 अक्टूबर ,2010 ई० को शिक्षक विकास परिषद ,गोवा द्वारा, बी० के० मोडल हाईस्कूल, बेलगाँव के धरमजी एंगोल सभागृह में आयोजित 16 वें राष्ट्रीय शैक्षणिक अधिवेशन में, हिन्दी साहित्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट अवदान तथा अभूतपूर्व उपलब्धियों के लिए नवी मुम्बई की वरिष्ठ साहित्यकार, डा० श्रीमती तारा सिंह को ’राष्ट्रीय साहित्य भूषण अवार्ड 2010’ से अलंकृत किया गया । संस्कृत विद्यापीठ, बेलगाँव के माननीय कुलपति, डा० शर्मा के हाथों श्रीमती सिंह को प्रशस्ति- पत्र , प्रतीक चिह्न, शाल और श्रीफ़ल प्रदान किये गये ।
इसी बीच डा० श्रीमती सिंह को उनकी उच्चस्तरीय रचनाधर्मिता एवं सुदीर्घ हिन्दी सेवा के लिए ’दी इकोनोमिक ग्रोथ सोसाइटी औफ़ इण्डिया ( काठमांडु शाखा ) द्वारा ’भारत- नेपाल सद्भावना अवार्ड,2010’ ; इण्डियन सोसाइटी फ़ोर इनडस्ट्री इन्टेलेक्चूवल डेवे्लपमेन्ट, दिल्ली द्वारा ’राष्ट्रीय विद्या रतन अवार्ड,2010’ ; अखिल भारतीय साहित्य परिषद, बालाघाट द्वारा ’ कविश्रेष्ठ सम्मान, 2010’ ; सुविख्यात मंदाकिनी मंच, रानी, बछवाड़ा (बेगूसराय) द्वारा ’रमा अनुरागी स्मृति सरहपाट शिखर सम्मान,2010’ ; इतिहास एवं पुरातन शोध संस्थान , बालाघाट द्वारा,’ साहित्य कर्णश्री’ ; अखिल भारतीय वैचारिक क्रांति मंच, लखनऊ द्वारा, ’सम्मान प्रमाण-पत्र, 2010’ ; अखिल भारतीय हिन्दी प्रसार प्रतिष्ठान, पटना द्वारा ’काव्यश्री सम्मान’ से नवाज़ा गया । डा० श्रीमती सिंह अब तक 173 बिभिन्न राष्ट्रीय / अन्तर्राष्ट्रीय संस्थानों द्वारा सम्मानित / पुरस्कृत हो चुकी हैं तथा इनकी 24 पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं ।


डा० बी० पी० सिंह
अध्यक्ष, स्वर्ग विभा

HTML Comment Box is loading comments...