www.swargvibha.in






 

 

शशांक मिश्र भारती सम्मानित

 

 

बीते दिनों समग्र साहित्यिक योगदान व कई पत्र-पत्रिकाओं के सम्पादन सहभागिता के लिए शाहजहांपुर उ0प्र0 के शशांक मिश्र भारती को देश की कई प्रतिष्ठित संस्थाओं ने अपने सम्मानों से अलंकृत किया।इनमें इतिहास एवं पुरातत्वशोध संस्थान संग्रहालय बालाघाट मध्य प्रदेश के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. वीरेन्द्र सिंह गहरवार ने राष्ट्रीय कीर्ति भारती विद्श्री सुरभि साहित्य संस्कृति अकादमी खण्डवा मध्यप्रदेश के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. जगदीशचन्द्र चैरे ने महाअलंकरण सम्मान पद्यश्री डा. मणिभाई देसाई मानव सेवा ट्रस्ट पुणे महाराष्ट्र के डा. रविन्द्र दि. भोले ने भारतरत्न डा. ए. पी. जे. अब्दुलकलाम राष्ट्ररत्न पुरस्कार 2016 अहिन्दी भाषी हिन्दी लेखक संघ पांऊटा साहिब हिमाचल प्रदेश के महासचिव सुरजीत सिंह जोबन ने सरस्वती साहित्य गौरव सम्मान सन्त गाडगे बाबा कर्मभूमि सेवा प्रतिष्ठान मुर्तिपुर व तरुणाइ्र फाऊंडेशन कुटासा ता. अकोट के अध्यक्ष श्री दिवाकर सोनोने व श्री सन्दिप देशमुख ने संत गाडगे बाबा कर्मभूमि पुरस्कार तथा कम्यूनिटी वेलफेयर फाउण्डेशन इण्डिया संगोली महाराष्ट्र के प्रेसीडेंट डा. विजय कुमार एस. शाह ने कम्युनिटी डेवलेपमेण्ट सार्टिफिकेट से सम्मानित किया।
नब्बे के दशक से बच्चों व बड़ों दोनों के लिए लेखन में सक्रिय शशांक मिश्र भारती की हमबच्चे पर्यावरण की कविताएं बिना विचारे का फल क्यों बोलते हैं बच्चे झूठ मुखिया का चुनाव आओ मिलकर गाएं दैनिक प्रार्थना व माध्यमिक शिक्षा और मैं पुस्तकें छप चुकी हैं।प्रतापशोभा बालसाहित्यांक 1997 प्रेरणा एक कवितासंकलन 2001 रामेश्वर रश्मि विद्यालयपत्रिका 2003,2005 व 2007 अमृतकलश राष्ट्रीयस्तरीय कवितासंचयन 2007 देवसुधा विषयाधारित पत्रिका के अब तक छः अंक का सम्पादन किया है।
अनेक राष्ट्रीय-अन्र्तष्ट्रीय स्तर की संगोष्ठियों आयोजनों में भागीदारी कर ष्षोधपत्रों का वाचन कवितापाठ किया है।संजयसाहित्यिक मंच खुटार से आरम्भ सम्मान- पुरस्कार का क्रम नागरी लिपि परिषद बालकनजी वारी इण्टरनेशल हमसब साथ-साथ नई दिल्ली ए.बी. आई अमेरिका आई.एन. ए.-भारतीयवाड.मय पीठ कोलकाता अ.भा.साहित्यसंगम उदयपुर पर्यावरण सम्मान भोपाल जीवनसाधक मथुरा राष्ट्रीयराजभाषा पीठ इलाहाबाद आदि से लगभग एक सौ तक जा पहुंचा है।
समाजप्रवाह मासिक मुम्बई 1991 से प्रकाशन का आरम्भ दौ सौ से अधिक पत्र -पत्रिकाओं के साथ - साथ रचनाकार स्वर्गविभा सृजनगाथा साहित्यशिल्पी मधुपुराटुडे हिन्दी हाइकु कविताकोश अन्र्तराष्ट्रीय काव्यसंकलन प्रतिलिपि जयविजय आदि अन्तरजालों तक पहुंचा है।
सम्प्रति यह आर.एच. गर्वमेण्ट कालेज टनकपुर में प्रवक्ता संस्कृत के पद पर कार्यरत हैं।

 


प्रस्तुति:- एकांशी शिखा हिन्दी सदन बड़ागांव शाहजहांपुर 242401 उ0प्र0

 

 

 

HTML Comment Box is loading comments...