www.swargvibha.in






 

 

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस..

 

womenday

 

 

नारी जाति सदियों तक पूजी जायेगी : डॉ. प्रदीप सिंह देव देवघर(_________________________): अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर स्थानीय विवेकानन्द शैक्षणिक, सांस्कृतिक एवम् क्रीड़ा संस्थान तथा योगमाया मानवोत्थान ट्रस्ट के युग्म बैनर तले ताज ऑडिटोरियम में " विश्व महिलाओं की देन" पर एक संगोश्ठी सम्पन्न हुई । मौके पर विवेकानन्द संस्थान के केन्द्रीय अध्यक्ष सह योगमाया ट्रस्ट के राष्ट्रीय सचिव डॉ. प्रदीप कुमार सिंह देव ने कहा- नारी जाती सदियों से पूजी जाती रही और तक पूजी जायेगी । महारानी लक्ष्मीबाई स्वाधीनता की लक्ष्मी थी । देश, धर्म और स्वतंत्रता के लिए इस वीरांगना ने आत्मबलिदान किया है । वह भारतीय स्वाधीनता की देवी थी । मदर टेरेसा सम्पूर्ण विश्व की माता कहलायी । उन्होंने आजीवन अनाथ, गरीब और असहाय बच्चों के लिए काम करती रहीँ । इन्दिरा गाँधी, भगिनी निवेदिता, कस्तूरबा गाँधी, माता देवकी, सती शीला, परम् साध्वी कान्तिमती, सती सावित्री, सती दमयन्ती, माता सुमित्रा की देन को भूलायी नहीँ जा सकती है । फ्लोरेंस नाइटिंगेल सेवा की प्रतीक थी ।उसका सारा जीवन दुःखी मानवों की सेवा में बीता । उसकी कीर्ति कभी मिट नहीँ सकती है । नारी-जाति जगज्जननी आद्याशक्ति की प्रतिनिधि या प्रतिमूर्ति है । नारी -जाति की उन्नति करनी पड़ेगी ।तभी वे फिर सीता, सावित्री, मैत्रेयी, गार्गी और अपाला आदि-सरीखी विदुषी नारियों को जन्म देगी । वे ही इस जाति का उद्धार करेगी । नारियों का आदर्श माँ बनना पड़ेगा । आदर्श माँ हुए बिना आदर्श पुत्र भी जन्म नहीँ लेंगे । नारी को त्याग, संयम, कठोरता और ईश्वर विश्वास आदि की शिक्षा प्राप्त करके चरित्रवती बनना पड़ेगा ; तभी देश का कल्याण होगा और तभी इस जाति का पुनरुत्थान हो सकेगा । मौके पर ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष प्रभाकर कापरी, एम. एम. अकादमी के शिक्षक अजय नन्दन राठौर, ट्रस्ट के किशोर सदस्य आदर्श कुमार व अन्य ने भी विषय वस्तु पर अपना अपना विचार रखा ।

 

 

HTML Comment Box is loading comments...