www.swargvibha.in






मिट्टी के हम दिये बनाते हैं

 

mitti ke

 

-----------------------------------
मिट्टी के हम दिये बनाते हैं
आप सब के लिए बनाते हैं
उन उजालों से आप कह देना
हम अंधेरों में जिए जाते हैं
-----------------------------------
- बृजेश यादव

 

 

 

HTML Comment Box is loading comments...